कम नींद आने का इलाज-reduce sleepy time solution In Hindi

गुड़हल एक खूबसूरत फूलों वाला पौधा है, जो आमतौर पर ट्रॉपिकल और गर्म क्षेत्रों में पाया जाता है। इस पौधे की कई प्रजातियां पाई जाती है और सभी अपने खूबसूरत फूलों के जानी जाती है। मजेदार बात यह है कि गुड़हल का फूल दक्षिण कोरिया, मलेशिया और हैथी गणराज्य का राष्ट्रीय फूल है। भारत में इस फूल को काफी शुभ माना जाता है और कई धार्मिक संस्कारों और चढ़ावें में इसका इस्तेमाल किया जाता है। प्रचीन भारतीय आयुर्वेद में गुड़हल का इस्तेमाल कई तरह की बीमारियों को दूर करने के लिए किया जाता था। गुड़हल की पत्ती का इस्तेमाल न सिर्फ औषधीय, बल्कि कई रूपों में किया जाता है।
कई बार तो इसका इस्तेमाल पार्क और गार्डन को सजाने के लिए भी किया जाता है। गुड़हल की पत्ती को विभिन्न तरह से इस्तेमाल के लिए अलग-अलग रूपों में संसाधित किया जाता है। गुड़हल की सूखी पत्ती का इस्तेमाल मैक्सिकन जैसे कई व्यंजन को सजाने के लिए भी किया जाता है। साथ ही इसकी पत्ती का इस्तेमाल चाय बनाने के लिए किया जाता है, जो कई देशों में अलग-अलग नामों से चर्चित है। कई शोध के जरिए वैज्ञानिक रूप से यह बात सिद्ध हो चुकी है कि गुड़हल की पत्ती में औषधीय गुण पाए जाते हैं। 2008 में यूएसडीए के अध्ययन में पाया गया कि गुड़हल का चाय पीने से ब्लड प्रेशर कम होता है।


15-1368606048-stresshabit10

आयुर्वेद में लाल और सफेद गुड़हल को औषधीय गुण से भरपूर माना जाता है और इसका इस्तेमाल खांसी, बालों के झड़ने और बालों के सफेद होने की समस्या से निजात पाने के लिए किया जाता है। साथ ही गुड़हल एंटीऑक्सीडेंट से भी भरपूर होता है और इसका इस्तेमाल एंटी-एजिंग के रूप में किया जाता है। इसके अलावा गुड़हल की पत्ती से बनी चाय का इस्तेमाल शरीर में स्फूर्ति जगाने के लिए भी किया जाता है।


1) सोने से पहले गर्म दूध पिएं : पुराने समय से ही यह बात बड़े – बुजुर्ग कहते आ रहे है कि सोने से पहले गर्म दूध पिएं, इससे नींद अच्‍छी आती है। दरअसल, गर्म दूध में अमीनो एसिड़ की मात्रा होती है जिससे अच्‍छी नींद आती है। इसलिए, अगर आपको कम नींद की शिकायत है तो सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध का सेवन करके आजमाएं।


2) भूखे पेट न सोएं : भूखे पेट कभी नींद नहीं आती। हमेशा हेल्‍दी डिनर लें और उसके बाद ही सोएं। सोने के बाद भी आपका शरीर सुचारू रूप से चलता है जिसके लिए एनर्जी भी चाहिए होती है, अगर आप खाना नहीं खाकर सोंएगे तो शरीर में कमजोरी होगी और अच्‍छी नींद भी नहीं आएगी। सोने से पहले खाना ही खाएं न कि स्‍नैक्‍स या हल्‍का सा कोई भी रिफ्रेशमेंट।


3) हर्बल टी पिएं : सोने से पहले कोई हर्बल टी पिएं जैसे – ग्रीन टी, नींबू टी या कैनोमाइल टी। इनको पीने से बॉडी में ताजगी आती है और नींद भी अच्‍छी लगती है। इस प्रकार की चाय में नींद को भगाने वाले तत्‍व नहीं होते है


4) टहलें : रात के खाने के बाद थोड़ी देर टहलें। टहलने से आपके शरीर में एक्‍टीविटी होगी और रक्‍त का संचार अच्‍छे से होगा। सोने से पहले टहलने से नींद अच्‍छी आती है


5) कैफीन की मात्रा कम लें : दिन में आप कॉफी पर्याप्‍त मात्रा में पी ही लेते है। लेकिन रात के खाने के बाद कॉफी का सेवन कम ही करें। कॉफी में कैफीन की मात्रा होती है जो नींद को भगा देती है। इसलिए सलाह दी जाती है कि सोने से पहले कॉफी न पिएं, वरना आपको नींद नहीं आएगी और बैचेनी होगी।

Don't be shellfish...FacebookGoogle+TwitterEmail

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>