कैंसर से बचने के 5 रसीले नुस्खे-5 juicy tips to avoid cancer

vit

यह एक बहुत पुराना तथ्‍य है कि एण्‍टीआक्सिडेंट्स से कैंसर से बचाव सम्‍भव है। मैक्‍स अस्‍पताल की हैड आफ डायटिक्‍स डा रितीका समद्दार और आर्टेमिस अस्‍पताल की मुख्‍य आहार विशेषज्ञ ज्‍योती अरोड़ा हमें एण्‍टीआक्सिडेंट युक्‍त फलों का रस लेने की सलाह देती हैं

1. चुकंदर कहे कैंसर को गुड बाय

beet

कैंसर की चिकित्सा के लिए चुकंदर का रस प्रभावी तरीके से काम करता है। यह जूस बहुत ही गाढ़ा होता है इसलिए आप अपने स्वादानुसार इसमें दूसरे फलों के जूस भी मिल सकते हैं जैसे गाज़र या सेब का जूस

2. ब्रोकाली

brokali

ब्रोकाली में इन्डोल 3 कार्बिनाल होता है, जो एण्टीआक्सिडेंट है और एस्ट्रोजन को तोड़कर ब्रेस्ट कैंसर, सर्विक्स कैंसर और ओवरी के कैंसर से सुरक्षा प्रदान करता है। ब्रोकोली खरीदते समय यह बात ध्यान में रखें कि उसका रंग पीला ना हो.

3. सुनहरा रस गाज़र का

carrot

किसी भी प्रकार की चिकित्सा के लिए गाज़र के रस को सुनहरे रस के रूप में माना जाता है। गाज़र की बाहरी परत पर मौजूद बीटा कैरोटीन प्राकृतिक रूप से त्वचा के कैंसर से बचाव करता है। गाज़र बिना किसी दरार या जड़ों वाले होने चाहिए।

4. फेफड़ों के लिए हितकर हैं लेट्यूस

leatus

लेट्यूस में क्लोरोफिल अधिक मात्रा में होता है और यह फेफड़ों की कैंसर से प्रतिरक्षा करता है। यह सल्फर, क्लोरीन, सिलिकन, बी काम्पलेक्स का अच्छा स्रोत है, जिससे त्वचा और बालों का विकास होता है।

5. बढा़यें टमाटर से प्रतिरोधी क्षमता

tomato

टमाटर विटामिन सी का अच्छा स्रोत होने के साथ–साथ जैविक सोडीयम, फासफोरस, कैल्शीयम, पोटैशीयम, मैगनेशीयम और सल्फर का अच्छा स्रोत है। टमाटर में मौजूद ग्लूटाथीयोन शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और प्रास्ट्रेट कैंसर से भी शरीर की सुरक्षा करता है।

Don't be shellfish...FacebookGoogle+TwitterEmail

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>