फेसबुक की फ्रेंडशिप में धोखे से कैसे बचें? – How to Avoid Fraud in Facebook’s Friendship?

facebook froud-hindihow
फेसबुक की दोस्ती बुरी नहीं है, लेकिन असल जिंदगी की तरह यहां भी सावधानी जरूरी है। पेश हैं फेसबुक की फ्रेंडशिप में धोखे से बचने के 5 टिप्स:

फेक और रियल को समझें

- फेसबुक पर रियल फोटो न शेयर करने वाले अक्सर शक पैदा करते हैं।
- बार-बार कुछ तरह के पोस्ट जैसे अंधविश्वास से जुड़े या वल्गर पोस्ट शेयर करने वाले प्रोफाइल से अलर्ट रहें।
- पुरानी दोस्ती का दावा करने वालों से भी सतर्क रहें।

फोटो पोस्ट करने से पहले सोचें

- फेसबुक के अडिक्शन में सब कुछ पोस्ट करने की हड़बड़ी से बचें।
- लड़कियां फोटो शेयर करने से पहले खास ध्यान रखें। आपको पता भी नहीं चलेगा और आपका फोटो किसी फेक या वल्गर साइट पर पहुंच जाएगा।

ऑनलाइन रहे ऑनलाइन

- फेसबुक की दोस्ती को फेसबुक तक ही सीमित रखना बेहतर है।
- फेसबुक पर बने फ्रेंड पर भरोसा करने से पहले एक बार जरूर सोचें।
- मिलने की जल्दबाजी दिखाने वालों से सतर्क रहें।
- आपकी पर्सनल जानकारी चाहने वाले से दूरी बना कर रखें।
- अगर कभी मिलने लायक स्थिति बने, तो किसी पब्लिक प्लेस पर अपने करीबी दोस्त को साथ लेकर मिलने जाएं।

फ्रेंड के फ्रेंड चेक करें

- असली फेकबुक अकाउंट का पता उस पर मौजूद फ्रेंड की ऐक्टिविटीज से भी होता है।
- असली फ्रेंड खुल कर बात करते हैं और अगर किसी अकाउंट पर विदेशी फ्रेंड्स की भरमार है, तो फेक होने के चांस ज्यादा हैं।
- रियल अकाउंट की फ्रेंड लिस्ट में ऑफिस और फैमिली भी जरूर मौजूद रहती है।

अनफ्रेंड करने में न करें देरी

- जरा-सी भी असहजता महसूस होने पर फेसबुक पर बने फ्रेंड को फौरन अनफ्रेंड करें।
- अगर आपको लगता है कि वह दूसरों को भी परेशान करता है, तो अपनी फ्रेंडलिस्ट में मौजूद और दोस्तों की इसकी जानकारी दें।
- दूर बैठा एक फेक दोस्त आपकी फ्रेंडलिस्ट में बने रह कर कई और लोगों को नुकसान पहुंचा सकता है

Don't be shellfish...FacebookGoogle+TwitterEmail

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>